For Free Consultation, dial 73 986 73 986, 74 238 74 238 (7am-9pm)
Blog

मोटापा

मोटापा एक ऐसी स्थिति है जहां एक व्यक्ति के शरीर में बहुत अधिक वसा (fat) जमा हो जाती है, जिसका उनके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव(Negative effect) पड़ता है। मोटापे की समस्या सिर्फ भारत में नहीं बल्कि पूरे विश्व में बढ़ रही है ! इससे निजात पाने के लिए लोग महंगे से महंगा ट्रीटमेंट लेते है ! मोटापा कई बीमारियों की जड़ है! मोटापा का मतलब सिर्फ बेडौल शरीर नहीं अपितु कई रोगों का बुलावा है ,यह कई रोगो को अपने साथ लेकर आता है !

कारण

व्यायाम न करना, नींद पूरी न होना, अधिक घी, तेल आदि चीज़ो का सेवन, आनुवंशिक विकार, हार्मोनल असंतुलन, गर्भावस्था, अनियमित जीवन शैली, शारीरिक श्रम कम होना, मानसिक तनाव, बड़ी मात्रा में शराब का उपभोग करना,  इन्ही सब कारणों के परिणाम से मोटापा होता है !

मोटापा कम करना कहने जैसा सरल काम नहीं है इसके लिए कठिन परिश्रम करना पड़ता है ! कुछ लोग मोटापा करने के लिए एलोपैथिक दवाइयों का सेवन अधिक मात्रा में करते है लेकिन इसके दुष्प्रभाव शरीर पर होने लगते है ! मोटापे के कारण इन बिमारियों के होने का खतरा बढ़ जाता है :

  • दिल की बीमारी, उच्च रक्त चाप
  • कुछ कैंसर जैसे स्तन कैंसर (Breast cancer), बृहदान्त्र (colon), एंडोमेट्रियल (Endometrial)
  • आघात या अटैक (attack)
  • पित्ताशय रोग
  • मधुमेह प्रकार-2
  • फैटी यकृत रोग
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल (high cholesterol)
  • स्लीप एपनिया और अन्य श्वास संबंधी समस्याएं
  • गठिया (arthritis)
  • बांझपन (Infertility)

उपचार

अपनी जीवनशैली को बदलकर , नियमित व्यायाम करके, संतुलित आहार लेने से जैसे कि हरी सब्जियों का अधिक मात्रा में सेवन करके और शारीरिक श्रम कर हम इस बीमारी से राहत पा सकते है ! आयुर्वेद में मोटापे की बीमारी से बचने के लिए बहुत सारे उपाए बताए गए है जैसे की नियमित तौर पर 20 -30 मिनट व्यायाम करने से जैसे की साइकिलिंग करना, तैरना ,चलना ,सुबह सैर करना बहुत फायदेमंद रहता है ! दिन में ज्यादा से ज्यादा पानी पिए , गुनगुने पानी का गिलास लें, उसमे शहद की एक चम्मच, नींबू के रस के 3 बड़े चमच्च और एक चुटकी पिसी हुई काली मिर्च डाल कर हिला ले।यह मिश्रण हर सुबह खाली पेट पीएं।ऐसा करने से आपको मोटापे की बीमारी से जल्दी राहत मिलेगी ! मोटापे के लिए आयुर्वेद में कुछ खास आसन बताये गए है जैसे की भुजंगासन ,वज्रासन,शलभासन और सूर्य नमस्कार आदि है, जो मोटापे के लिए बहुत प्रभावशाली  है ! मोटापे को कम करने के लिए केमिकल युक्त दवाइयो का सेवन नहीं करना चाहिए  क्यूंकि इन दवाइयों के बहुत दुष्प्रभाव होते है ! आयुर्वेद में बताये गए उपायों को अपनाकर प्राकृतिक तरीको से अपना वजन घटा सकते है बस जरूरत है की इसके लिए परिश्रम करने की  !

For natural, ayurvedic healing of such health problem, you can consider this ayurvedic product:
https://www.divyaupchar.com/product/divya-medhar-kit/

Leave your thought

Select the fields to be shown. Others will be hidden. Drag and drop to rearrange the order.
  • Image
  • SKU
  • Rating
  • Price
  • Stock
  • Availability
  • Add to cart
  • Description
  • Content
  • Weight
  • Dimensions
  • Color
  • Attributes
Compare
Wishlist 0
Open wishlist page Continue shopping