For Free Consultation, dial 73 986 73 986, 74 238 74 238 (7am-9pm)
Blog
vedic ayurveda, best ayurveda websites, find ayurvedic practitioner, vedic ayurvedic products, buy ayurvedic medicine, ayur massage, top ayurvedic medicine

जंक फ़ूड लगा रहा है आपकी अच्छी सेहत पर जंग

क्या आप बाहरी खाने के शौकीन है और आप समय के अभाव के कारण अधिकतर खाना बाहर का ही खाते है ?

तो क्या आप जानते है की जो खाना आप खा रहे है वो आपकी भूख को निशाना बना कर आपकी सेहत से खिलवाड़ कर रहा है। जी हाँ आपकी भूख । आपकी भूख को मैं इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि आप जंक फ़ूड के आदि हो चुकें हैं और संतुलित आहार रहित खाना खा रहे हैं तो अंदर ही अंदर से आपका मोटापा ही नहीं बड़ा रहा बल्कि आप हज़ार और बीमारियों को स्वयं ही न्योता दे रहे हैं। अक्सर होता यही है की जो चीज़ खाने में स्वादिष्ट होती है वो शरीर के लिए नुकसानदायक होती है।जंक फ़ूड के सेवन से होने वाले नुकसान के बारे में ज्यादातर लोग अवगत तो हैं लेकिन फिर भी इसमें कमी नही आई ।

2017 में आई FSSAI की रिपोर्ट के अनुसार जो बच्चे अधिकतर मोटे और ओवरवेट पाए गए उनका वजन नियंत्रण में लाने के लिए उन्हें जंक फ़ूड से दूर रखने पर ज़ोर दिया गया । इस रिपोर्ट में बताया गया की जो बच्चे ज्यादा समय से बाहरी खाने, साल्टी और फैट युक्त आहार का सेवन कर रहे थे वो ज्यादा गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हुए।
जंक फूड हमारी जिंदगी को कितना नुकसान पहुंचा सकते हैं आपको अंदाजा नहीं है।एक शोध की माने तो जंक फूड खाने से दिमाग में गड़बड़ी पैदा होने लगती है।

किसी भी प्रकार के जंक फूड में सबसे ज्यादा कैलरीज होती है और कैलोरी होने से शरीर में बहुत तेजी से चर्बी बढ़ती है जिससे शरीर बीमारियों का घर बनता चला जाता है और ऐसे में यदि आप व्यायाम नहीं करते हैं तो मोटापा और भी बढ़ सकता है। जाने अनजाने स्वस्थ भोजन खाने में भी हमें कैलोरी की संख्या को ध्यान रखना चाहिए अन्यथा वजन और मोटापा बढ़ सकता है।

निरंतर फास्ट फूड के सेवन से व्यक्ति शिथिल होता चला जाता है जिसके कारण थकान महसूस होने लगता है, आवश्‍यक पोषक तत्‍व जैसे प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट की कमी की कारण फास्ट फूड उर्जा के स्तर को कम कर देता है।

जंक फूड और पेय पदार्थ के सेवन से लिवर से जुडी समस्या होने के चांसेस ज्यादा बढ़ जाते है क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में फैट, आर्टिफीसियल शुगर, साल्ट, सोडा इत्यादि शामिल होता है जो लिवर के रोग बढ़ाता है।

ज्यादा से ज्यादा फास्ट फूड का सेवन करने वाले लोगों में 80 फीसदी दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। इस तरह के आहार में ज्यादा फैट होता है जो कोलेस्ट्रॉल के उच्च स्तर में भी योगदान देता है।

फास्ट फूड में कार्बोहाइड्रेट और चीनी की मात्रा इतनी अधिक होती है कि यह डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है।फाइबर की मात्रा बिल्कुल ना होने के कारण यह प्राकृतिक इंसुलिन को भी नियंत्रित नहीं करता, बल्कि खाना पचाते समय रक्त प्रवाह में ग्लूकोस को बढ़ावा देता है, जिसके फलस्वरुप शरीर में शुगर लेवल बढ़ता चला जाता है इसलिए जंक फूड का सबसे बड़ा नुकसान मधुमेह की बीमारी से भी जुड़ा हुआ है।

जंक फूड का लगातार सेवन टीनेजर्स में डिप्रेशन का कारण बन सकता है। बढती उम्र में बच्‍चों कई तर‍ह के बायोलॉजिकल बदलाव आने लगते हैं। जंक फूड जैसे चौमिन, पिज्जां,बर्गर, रोल खाना बढते बच्चों के लिए एक समस्या बन सकता है और वह डिप्रेशन में भी जा सकता है।

मैदे और तेल से बने जंक फूड पाचन क्रिया को भी प्रभावित करता है। इससे कब्ज की समस्‍या भी होने लगती है।इनमें फाइबर्स की कमी होने की वजह से भी ये खाद्य पदार्थ पचने में दिक्‍कत करते हैं।

ऑस्ट्रेलिया के डीकिन यूनिवर्सिटी के एक सर्वे के अनुसार जंक फ़ूड दिमाग पर बहुत गहरा असर डालता है, इसके साथ साथ दिमाग से जुडी समस्या जैसे की याददाश्त कमजोर होना, सीखने की क्षमता पर गहरा असर पड़ता है, ये खाना पौष्टिक तत्वों से रहित होता है जिससे ये सभी समस्या होने लगती है, दिमाग को भी पौष्टिक और संतुलित आहार की जरूरत होती है।

वसा से भरपूर खाद्य पदार्थ हृदय, रक्त वाहिकाओं, जिगर जैसे कई बीमारियों का कारण हैं। इससे तनाव भी बढ़ता है।

इसलिए इन सब बातों को ध्यान रखते हुए अपनी जीवनशैली में बदलाव करें और जितना हो सके पौष्टिक और संतुलित आहार का सेवन करें इससे आप का स्वास्थ्य अच्छा होगा और हर प्रकार की बीमारियों से बचे रहेंगे।

खाने में आप हरी सब्जियों को शामिल कर सकते हैं, साथ ही इसके फलों का सेवन करें, ताजे फलों का जूस पिएं, फ्रूट सलाद खाएं और हो सके तो शारीरिक परिश्रम करें, जैसे की व्यायाम, योग, मैडिटेशन, सैर इत्यादि करते रहें।

 

For natural, 100% ayurvedic treatment of disease, you can consider this medicine:
https://www.divyaupchar.com/product/divya-kit/

Leave your thought

Compare
Wishlist 0
Open wishlist page Continue shopping